UPHESC Assistant Professor Exam 2021 Hindi Optional Test 4

UPHESC Assistant Professor Exam 2021 Test Series for Hindi Optional Test 4: UPHESC Assistant Professor Exam 2021 Test Series for General studies: UPHESC Assistant Professor Recruitment 2021- Uttar Pradesh Higher Education Services Commission has started accepting online application form for 2003 vacancies for Assistant Professor Posts.

UP government is providing an opportunity for those candidates who are looking forward to teaching as their career. The online applications will be accepted by 26th March 2021.Bookmark this page and stay tuned with us for every latest update for UPHESC Assistant Professor Jobs 2021. UPHESC Assistant Professor Vacancy 2021 announced for 2003 Assistant Professor Post which includes 2002 posts of Assistant Acharya in 47 subjects and 01 post of Assistant Acharya Geoscience of Advertisement No. -46. The application form for UPHESC Assistant Professor 2021 began on 27 February 2021 and the last date to apply online is 26 March 2021.

Syllabus – General Knowledge / General Studies – Click here – download

Important Point: Those aspirants/students joined this programme will get the answer key / detailed solution on the same day of test in the evening (between 8 PM to 10 PM). ignore if you have already joined.

Syllabus – Optional – Hindi – Click here – download

Test Series For GK + Hindi – Click here – Join

Pick your Pen and Paper, attempt the questions exactly like UPHESC Exam (UPHESC Assistant Professor Exam is not computer based). If you want to know your ranking send us your OMR / Answer Sheet to : [email protected] or in the comment section. “Be honest with yourself”

Click here – download OMR Sheet


1. सखी सम्प्रदाय या हरिदासी सम्प्रदाय को किसने” टट्टी सम्प्रदाय” कहकर पुकारा है?

(अ) आचार्य शुक्ल

(ब) मिश्र बन्धु

(स) ग्रियर्सन

(द) शिवशिंह सैंगर

2. आदिकाल को ‘आधार काल’ कहने वाले विद्वान है –

(अ) वासुदेव सिंह

(ब) मोहन अवस्थी

(स) शम्भुनाथ सिंह

(द) शैलेश जेदी

3. “साहित्य का इतिहास बदलती हुई अभिरुचियों और संवेदनाओं का इतिहास है, जिसका सीधा संबंध आर्थिक और चिंतनात्मक परिवर्तन से है।” परिभाषा किसकी है ?

अ डॉक्टर नगेंद्र

ब हजारी प्रसाद द्विवेदी

स आचार्य शुक्ल

द डॉक्टर गणपति चंद्र गुप्त

4. ‘हिंदी साहित्य का इतिहास दर्शन’ ग्रंथ के लेखक कौन हैं ?

अ विजयेंद्र स्नातक

ब नलिन विलोचन शर्मा

स डॉक्टर नामवर सिंह

द डॉक्टर विनय मोहन

5. निम्न में से कौनसी रचना हजारी प्रसाद द्विवेदी की नहीं है ?

अ हिंदी साहित्य की भूमिका

ब हिंदी साहित्य का आदिकाल

स रीति काव्य की भूमिका

द हिंदी साहित्य का उद्भव व विकास

6. निम्न में से प्रवृत्ति के आधार पर किया गया नामकरण कौनसा है ?

अ भारतेंदु युग

ब आदिकाल

स रीतिकाल

द आधुनिक काल

7. शुक्ल जी ने हिंदी साहित्य के काल विभाजन का नामकरण किस आधार पर किया है ?

अ प्रवृत्ति की प्रधानता

ब परंपरा

स प्रमुख ग्रंथ

द कोई नहीं

8-गोरखपंथी सम्प्रदाय अथवा वैरागी पंथ के प्रवर्तक हैं?

अ) गोरखनाथ

ब) मत्स्येन्द्र नाथ

स) चर्पटनाथ

द) भरथरीनाथ

9- ‘हिन्दी भाषा का अद्यतन इतिहास ‘ के संपादक थे –

अ) मिश्रबंधु

ब) बच्चनसिंह

स) डॅा. नगेन्द्र

द) श्यामसुंदर दास

10-आदिकाल में हिंसामूलक राजपूत राजाओं पर किस धर्म का प्रभाव था –

अ) वैष्णव धर्म

ब) शैव धर्म

स) शाक्त धर्म

द) स्मार्त धर्म

11-आदिकालीन सामाजिक क्षेत्र में प्रमुख धर्म था –

अ) जपूजी

ब) पूराण

स) मिताक्षर

द) बोद्धगान

12-विद्यापति के पदों की तुलना सोलोमन के गीतों से करने वाले समीक्षक हैं –

अ) शिवसिंह सेंगर

ब) जार्ज ग्रियर्सन

स) डॅा. रामकुमार वर्मा

द) आचार्य शुक्ल

13-अमीर खुसरो के अनुकरण पर किस आधुनिक कवि ने मुकरियाँ लिखीं –

अ) प्रतापनारायण मिश्र

ब) भारतेन्दु बाबु हरिश्चंद्र

स) श्रीधर पाठक

द) हरिऔध

14-जयमयंक जसचन्द्रिका एवं जयचन्द्र प्रकाश के कवि क्रमशः हैं –

अ) जगनिक एवं पृथ्वीराज

ब) कवि कल्लोल एवं कुशललाभ

स) मधुकर कवि एवं भट्टकेदार

द) भट्टकेदार एवं मधुकर कवि

15-विद्यापति को ‘ मैथिल कोकिल ‘ की उपमा का श्रेय किस कृति को है –

अ) पदावली

ब) कीर्तिपताका

स) गंगावाक्यावली

द) कीर्तिलता

16- किसी बात को कहने के पश्चात् मना करके दूसरे संदर्भ में अर्थ जोड़ना होता है –

अ) खलिकबारी

ब) मुकरियाँ

स) दोसखुन

द) पहेली

17 -स्वयं को ‘ तोता-ए-हिन्द ‘ कहलाने वाला आदिकालीन कवि हैं –

अ)चन्दबरदाई

ब) दलपत विजय

स) अमीर खुसरो

द) विद्यापति

18. “साहित्य का इतिहास बदलती हुई अभिरुचियों और संवेदनाओं का इतिहास है, जिसका सीधा संबंध आर्थिक और चिंतनात्मक परिवर्तन से है।” परिभाषा किसकी है ?

अ डॉक्टर नगेंद्र

ब हजारी प्रसाद द्विवेदी

स आचार्य शुक्ल

द डॉक्टर गणपति चंद्र गुप्त

19. ‘हिंदी साहित्य का इतिहास दर्शन’ ग्रंथ के लेखक कौन हैं ?

अ विजयेंद्र स्नातक

ब नलिन विलोचन शर्मा

स डॉक्टर नामवर सिंह

द डॉक्टर विनय मोहन

20. निम्न में से कौनसी रचना हजारी प्रसाद द्विवेदी की नहीं है ?

अ हिंदी साहित्य की भूमिका

ब हिंदी साहित्य का आदिकाल

स रीति काव्य की भूमिका

द हिंदी साहित्य का उद्भव व विकास

21. निम्न में से प्रवृत्ति के आधार पर किया गया नामकरण कौनसा है ?

अ भारतेंदु युग

ब आदिकाल

स रीतिकाल

द आधुनिक काल

22. शुक्ल जी ने हिंदी साहित्य के काल विभाजन का नामकरण किस आधार पर किया है ?

अ प्रवृत्ति की प्रधानता

ब परंपरा

स प्रमुख ग्रंथ

द कोई नहीं

23. “शब्दार्थो सहित काव्यम्।” लक्षण के प्रतिपादक आचार्य कौन हैं ?

अ भामह

ब मम्मट

स विश्वनाथ

द पंडित राज जगन्नाथ

24. “वाक्यं रसात्मक काव्यं।” परिभाषा किसकी है ?

अ भामह

ब मम्मट

स विश्वनाथ

द पंडित राज जगन्नाथ

25. ‘वक्रोक्ति; काव्यजीवितम्’ कथन किसका है ?

अ रुद्रट

ब कुंतक

स क्षेमेन्द्र

द आनंदवर्धन

26. ‘भरतेश्वर बाहुबली घोर रास’ के लेखक कौन हैं ?

अ शालिभद्र सूरि

ब जिनिदत्त सूरि

स विजयसेन सूरि

द वज्रसेन सूरि

27. आचार्य रामचंद्र शुक्ल का जन्म कब हुआ था ?

अ 1884ई.

ब 1883ई.

स 1880ई.

द 1885ई.

28- भारत का लोकनायक वही हो सकता है जो समन्वय की विराट चेष्टा रखता है?

अ) हजारी प्रसाद द्विवेदी

ब) रामचंद्र शुक्ल

स) महावीर प्रसाद द्विवेदी

द) गार्सा द तासी

29- आदिकाल को अत्यधिक विरोधों एवं व्यागातो का युग किसने कहा है?

अ) हजारी प्रसाद द्विवेदी

ब) रामचंद्र शुक्ल

स)रामकुमार वर्मा

द) महावीर प्रसाद द्विवेदी

30- नागरी प्रचारिणी सभा ने हिंदी साहित्य का वृहत इतिहास का प्रकाशन कितने खंडों में किया?

अ) 16

ब) 18

स) 14

द) 20

31- मिश्र बंधुओं ने प्रथम गद्य लेखक किसे माना है?

अ) गोरखनाथ को

ब) हजारी प्रसाद द्विवेदी

स) आचार्य शुक्ल

द) रामकुमार वर्मा

32- गोरख वाणी के लेखक है?

अ) जालंधर नाथ

ब) नागार्जुन

स) चर्पटनाथ

द) गोरखनाथ

33- गोरख वाणी के संपादक कौन थे?

अ) पीतांबर दत्त बड़थ्वाल

ब) गोरखनाथ

स) चर्पटनाथ

द) जालंधर नाथ

34- सर्वप्रथम पृथ्वीराज रासो को अप्रमाणिक किसने घोषित किया?

अ) बुलर

ब) सुनीति

स) ओझा

द) मुनि जिन विजय

35. पृथ्वीराज रासो के संबंध में कौनसी धारणा सही है ?

अ प्रामाणिक

ब अप्रामाणिक

स अर्द्धप्रामाणिक

द जाली ग्रंथ

36. बीसलदेव रासो में प्रधान रस कौनसा है ?

अ वीर

ब शांत

स वीभत्स

द श्रंगार

37. इनमें से नाथ संप्रदाय में क्या नहीं है ?

अ गृहस्थों का आदर

ब नारी निंदा

स गुरु महिमा

द इंद्रिय निग्रह

38. मैथिली हिंदी में रचित गद्य रचना का नाम बताइये –

अ राउलवेला

ब प्राकृतपैंगुलम्

स वर्ण रत्नाकर

द पदावली

39. पृथ्वीराज रासो का सर्वाधिक विवादित पक्ष कौनसा है ?

अ भाषिक संरचना

ब ऐतिहासिकता

स प्रबंधात्मकता

द चरित्रांकन

40. चरितकाव्य (जैन काव्य) किस छन्द में अधिक लिखे गए –

अ दोहा-चौपाई

ब कुंडलिया

स पद्धरिया

द छप्पय

41. भक्तिकालीन साहित्य को अचानक बिजली की चमक के समान फैलने वाला साहित्य किसने कहा था ?

अ आचार्य रामचंद्र शुक्ल

ब हजारी प्रसाद द्विवेदी

स जॉर्ज अब्राहम ग्रियर्सन

द विसेंट महोदय

42. भगवद् स्वरूप कृष्ण का सर्वप्रथम उल्लेख किसमें मिलता है ?

अ गोपालतापनि उपनिषद

ब कौशितकी ब्राह्मण

स श्वेताश्वेतरोपनिषद्

द ऋग्वेद

43. रामचरितमानस का रचनावर्ष कौनसा है ?

अ 1574ई.

ब 1585ई.

स 1570ई.

द 1571ई.

44. ‘कुवलयानंद’ ग्रंथ के रचनाकार कौन हैं ?

अ उद्योतन सूरि

ब अप्पय दीक्षित

स सोमप्रभ सूरि

द रुद्रट

45-अपभ्रंश के भाषिक एवं व्याकरणिक रूप का विवेचन किसने किया ?

अ) ज्योतिरीश्वर ठाकुर

ब) दामोदर

स) भोज

द) हेमचन्द्र

46-अपभ्रंश का पहला कवि किसे माना जाता है?

अ) स्वयंभू

ब) हेमचन्द्र

स) विद्यापति

द) जोइन्दु

47- इनमें से गलत जोड़े को अलग कीजिए ?

अ) विद्यापति – कीर्तिलता

ब) हेमचन्द्र – शब्दानुशासन

स) दामोदर शर्मा – वर्णरत्नाकर

द) रामसिंह – पाहुड़ दोहा

48- अपभ्रंश भाषा का प्राचीनतम प्रयोग किस साहित्य में हुआ है ?

अ) बोद्ध साहित्य

ब) जैन साहित्य

स) नाथ साहित्य

द) रासो साहित्य

49-अमीर खुसरो का जन्म किस स्थान इनमें से किस जिले में हुआ ?

अ) एटा

ब) मथुरा

स) अलीगढ

द) मैनपुरी

50- ” भल्ला हुआ जो मारिया बिहिणि म्हारा कन्तु ” यह पंक्ति किस कवि की है ?

अ) स्वयंभू

ब) लुईपा

स) पुष्पदन्त

द) मुंज कवि

51 – ‘ हिन्दी भाषा का उद्गम और विकास ‘ पुस्तक के लेखक कौन है ?

अ) भोलानाथ तिवारी

ब) देवेन्द्रकुमार शर्मा

स) डॅा. नामवर सिंह

द) डॅा. उदयनाथ तिवारी

52- डॅा. रामकुमार वर्मा के काल विभाजन में हिन्दी साहित्य का प्रारंभ कब से माना गया है ?

अ) 700 वि .

ब) 750 वि .

स) 1000 वि .

द) 1050 वि .

53- चरित काव्य किस छन्द में अधिक लिखे गए ?

अ) दोहा – चौपाई

ब) कवित्त

स) पद

द) पद्धरि

54- बीसलदेव रासो में कुल कितने छन्द हैं ?

अ) 100

ब) 120

स) 125

द) 140

55. अपभ्रसं को पुरानी हिन्दी कौन कौन कहा था।

अ राहुल संक्रत्यायन

ब शुक्ल जी

स चन्द धर शर्मा गुलेरी जी

द उपयुर्क्त सभी

56. नयनयारो की संख्या कितनी है

अ 12

ब 84

स 63

द इनमे से कोई नही

57. नाट्यवृत्तिया कितनी होती है

अ 4

ब 3

स 2

द 5

58. आदिकालीन साहित्य का प्रमुख रस

अ वीर

ब श्रंगार

स करुण

द शांत

59. मोरा जोबना नवेल रा भयो है गुलाल

कैसे घर दीनी बकस मोरी माल ।

उक्त काव्य पंक्तियों के रचयिता हैं-

(अ) धर्मदास

(ब) अमीर खुसरो

(स) दरिया साहब

(द) यारी साहब

60. “कबीर की अपेक्षा खुसरो का ध्यान बोलचाल की भाषा की ओर अधिक था ” किसका कथन है?

(अ) जॉर्ज ग्रियर्सन

(ब) मिश्रबंधु

(स) हजारी प्रसाद द्विवेदी

(द) आचार्य रामचंद्र शुक्ल

61. “बिहार के नालंदा एवं तक्षशिला विद्यापीठ” इनके मुख्य अड्डे थे तथा बाद में यह ‘भोट’ देश को चले गए थे “। कौन?

(अ) सिद्ध

(ब) नाथ

(स) जैन

(द) वैष्णव

62. ‘विजयपाल रासो’ (नल्लसिंह भाट) की भाषा है-

(अ) डिंगल

(ब) पिंगल

(स) अपभ्रंश

(द) राजस्थानी

63- श्री सम्प्रदाय के आराध्य थे –

अ) श्रीकृष्ण

ब) नारायण

स) लक्ष्मी

द) शिव

63- कृष्ण लीला प्रधान पहला संस्कृत काव्य है –

अ) गीतगोविन्द

ब) भागवत पुराण

स) ब्रह्मचरित

द) मेघदूत

64-‘ हिन्दी काव्य में निर्गुण सम्प्रदाय ‘ के लेखक हैं –

अ) परशुराम चतुर्वेदी

ब) पीताम्बरदत्त बड़थ्वालव

स) माताप्रसाद गुप्त

द) रामचन्द्र शुक्ल

65- भक्तिकाल को ‘ प्रथम नवजागरण ‘ कहने वाले विद्वान हैं –

अ) डॅा. बच्चन सिंह

ब) टिकम सिंह तोमर

स) विश्वनाथ प्रसाद

द) डॅा. नारायण बराड़ा

66- अवधविलास के रचयिता है –

अ) लालचन्ददास

ब) लालदास

स) रामदास

द) हरिदास

67- किस सम्प्रदाय में गद्दी पूजा का विधान है –

अ) रामानन्द सम्प्रदाय

ब) राधावल्लभ सम्प्रदाय

स) श्री सम्प्रदाय

द) निम्बार्क सम्प्रदाय

68- कृष्ण के पार्श्व में स्वर्णपत्र पर ‘ श्रीराधा ‘ अंकित कर आराधना करने वाला सम्प्रदाय है

अ) निम्बार्क सम्प्रदाय

ब) चैतन्य सम्प्रदाय

स) राधावल्लभ सम्प्रदाय

द) परब्रह्म सम्प्रदाय

69-‘ जा ने दीनानाथ ढरे ‘ पद की भक्ति है –

अ) दास्य भाव की भक्ति

ब) नवधा भक्ति

स) अलाहना की भक्ति

द) पुष्टिमार्गीय भक्ति

70- भक्तिकाल के प्रसिद्ध रीति निरूपक ग्रंथ ‘ रासपंचाध्यायी ‘ के लेखक हैं –

अ) नंददास

ब) नागरीदास

स) सुन्दरदास

द) परमानन्ददास

71-हिन्दी साहित्य का स्वर्णयुग भक्तिकाल को माना जाता है – इसका निर्देश सर्वप्रथम किस विद्वान द्वारा दिया गया –

अ) रामचन्द्र शुक्ल

ब) ग्रियर्सन

स) रामकुमार वर्मा

द) डॅा. नगेन्द्र

72 -कबीर काव्य में उपलब्ध कुण्डलिनी योग के शब्द किसके प्रभाव से गृहित है :

अ) सिद्ध सम्प्रदाय

ब) नाथ

स) बौद्ध धर्म

द) वेदान्त योग

73 -”ढा़ई आखर प्रेम के पढै सो पंडित होय” पंक्ति किस कवि की है :

अ) जायसी

ब) कुतुबन

स) कबीर

द) ईश्वरदास

74 -”अवधू गगन मण्डल घर कीजै” यह पंक्ति किसकी है :

अ) गुरूनानक

ब) गोरखनाथ

स) कबीर

द) रैदास

75 -नामदेव का सम्बन्ध किस प्रवृति से है :

अ) सगुणोपासना

ब) निर्गुणोपासना

स) नाथ पंथ

द) सगुणोपासना एवं निर्गुणोपासना

76 -नल -दमयन्ती आख्यान किस ग्रन्थ में है :

अ) सामवेद

ब) महाभारत

स) हरिवंश पुराण

द) रामायण

77 – उसमान कृत चित्रावली का नायक कौन है:

अ) रत्नसेन

ब) मनोहर

स) सुजान

द) माधव

78 -प्रेमाख्यानक परम्परा का अन्तिम काव्य किसका है :

अ) जान कवि

ब) नूर मुहम्मद

स) शेखनबी

द) कासिमशाह

79 -किस संत ने अपने चमत्कार के माध्यम से डूबते हुए शाही जहाज बचाया :

अ) सुंदरदास

ब) मलूकदास

स) रज्जब

द) नानकदेव

80 -ज्ञानाश्रयी को संतकाव्य कहने वाले

अ) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल

ब) रामकुमार वर्मा

स) हजारी प्रसाद द्विवेदी

द) मिश्र बंधु

81- हिन्दी में सर्वप्रथम कृष्ण को काव्य का विषय बनाने वाले प्रथम कवि थे :

अ) सूरदास

ब) विद्यापति

स) परमानन्ददास

द) नंददास

82- भक्तिकाल का नामकरण करने वाले विद्वान हैं-

(अ) गार्सा द तासी

(ब) शिवसिंह सैंगर

(स) ग्रियर्सन

(द) आचार्य शुक्ल

83. तुलसीदास की अन्तिम कृति है-

(अ) विनय पत्रिका

(ब) कवितावली

(स) बरवै रामायण

(द) गीतावली

84. गोरख जगायो जोग, भक्ति भगायो भोग उक्ति के लेखक है-

(अ) गोरखनाथ

(ब) भर्तृहरिनाथ

(स) नाभादास

(द) तुलसीदास

85. तुलसीदासजी की ज्योतिष ज्ञान संबंधित कृति है-

(अ) रामाज्ञा प्रश्नावली

(ब) बरवै रामायण

(स) पार्वती मंगल

(द) जानकी मंगल

86. भक्तिकाल के प्रशासक थे-

(अ) मुगल

(ब) अंग्रेज

(स) पुर्तगाली

(द) मराठा

87- असुमेलित छाँटिए:

(अ) बुद्धिप्रकाश- तारामोहन मिश्र  

(ब) बंगदूत-  राजाराम मोहनराय

(स) बनारस अखबार- राजा शिवप्रसाद

(द) उदन्त मार्तण्ड- पं. जुगलकिशोर

88- सत्यार्थ प्रकाश नामक ग्रन्थ है ?

(अ) राजाराम मोहनराय(Raja Ram Mohan Roy)

(ब)  स्वामी दयानन्द सरस्वती (Swami Dayanand Saraswati)

(स) स्वामी विवेकानन्द( Swami Vivekanand)

(द) राधाचरण गोस्वामी

89- सरस्वती पत्रिका (Saraswati patrika) का प्रकाशन आरम्भ हुआ ?

(अ) 1826 ई.

(ब) 1900 ई.  

(स) 1947 ई.

(द) 1903 ई.

90- कौनसी पत्रिका भारत की हिन्दी चेतना का सबसे सशक्त मंच बन गयी थी ?

(अ) सरस्वती  

(ब) सुधाकर

(स) बंगदूत

(द) उदन्त मार्तण्ड

91- हिन्दी में आधुनिक कहानी (Modern story) का जन्म माना जाता है ?

(अ) 1900 ई.

(ब) 1901  ई.  

(स) 1903 ई.

(द) 1905 ई.

92- हिन्दी का पहला एंकाकी के एंकाकीकार होने का गौरव प्राप्त है ?

(अ) डॉ. रामकुमार वर्मा

(ब) जयशंकर प्रसाद (Jai Shankar Prasad)

(स) भुवनेश्वर( Bhubaneswar)

(द) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र(Bharatendu harishchandra)

93- निबंध के प्रमुख गुण है ?

(अ) स्वच्छन्दता

(ब) सरलता

(स) आडम्बरहीनता

(द) ये सभी  

94- हिन्दी में संस्मरण कला का जनक कहा जाता है ?

(अ) जयशंकर प्रसाद

(ब) यशपाल

(स) पद्मसिंह शर्मा  

(द) रामवृक्ष बेनीपुरी

95- हिन्दी का पहला एंकाकी होने का गौरव प्राप्त है ?

(अ) एक घूंट  

(ब) पृथ्वीराज की आँखे

(स) बादल की मृत्यु

(द) रेशमी टाई

96- रिपोतार्ज ” मूलत: किस भाषा का शब्द है ?

(अ) फ्रैंच  

(ब) लैटिन

(स) जर्मन

(द) डच

97-“एकघूंट” एंकाकी के एंकाकीकार है ?

(अ) डॉ. रामकुमार वर्मा

(ब) जयशंकर प्रसाद  

(स) भुवनेश्वर

(द) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र

98- पाश्चात्य प्रभाव से आयी हुई एक नयी साहित्य विधा है ?

(अ) आत्मकथा

(ब)  फीचर  

(स) साक्षात्कार

(द)  संस्मरण

99- साहित्य विधा ( Literary genre) के रूप साक्षात्कार का आरम्भ किसने किया ?

(अ) पद्मसिंह शर्मा  

(ब) प्रेमचन्द

(स) डॉ रामकुमार वर्मा

(द) जयशंकर प्रसाद

100- निम्न मेसें गद्य काव्य (Prose poetry) का उदाहरण है ?

(अ) बिजली

(ब) प्रणयिनी परिणय

(स)  प्रेम पच्चीसी

(द) गीतांजलि

Leave a Reply

Scroll to Top